Youtube history in hindi और यूट्यूब के महत्वपूर्ण नियम

Youtube history in hindi और यूट्यूब के महत्वपूर्ण नियम

Youtube history in hindi और यूट्यूब के महत्वपूर्ण नियम, यूट्यूब इतिहास इन हिंदी, यूट्यूब में अमेरिका कि एक वीडियो देखने या दिखाने वाली वेबसाइट है जिसमें subscribe सदस्य वीडियो क्लब देखने के साथ ही अपने Video upload कर सकते हैं। इसमें ऐसे पीपल के कुछ तीन प्रमुख कर्मचारियों चार्ट हार्ड स्टीव चेन और जावेद करीम ने मिलकर के सन 2005 फरवरी में यूट्यूब बनाया था।

Youtube history in hindi और यूट्यूब के महत्वपूर्ण नियम
Youtube history in hindi 


Youtube history in Hindi


जैसे कि दोस्तों आप जानते हैं कि आज काल लगभग सबसे अधिक यूट्यूब खोलो अपनाने लगे हैं क्योंकि कोई भी जानकारी चाहिए कोई भी पाठ्यक्रम की जानकारी चाहिए किसी भी विषय से सम्बंधित है कोई भी अन्य जानकारी आप किसी भी तरह का वीडियो यूट्यूब के माध्यम से देख सकते हैं इसलिए दोस्तों यूट्यूब के बारे में थोड़ा बहुत मैं आपको बताने जा रहा हूँ कि इसका इतिहास का केस इसका है।

जिसे नवंबर 2006 में गूगल ने 1.65 बिलियन अमेरिकी डॉलर में इसे खरीद लिया यूट्यूब अपने पंजीकृत सदस्यों को Video upload करने की अनुमति देता है देखने शेयर करने और पसंद Video के रूप में जोड़ने तथा किसी भी प्रकार की रिपोर्ट करने टिप्पणी करने, तथा दूसरे सदस्यों के चैनल के सदस्यता सब्सक्राइब करने, आदि प्रकार के प्रोग्राम अपने यूट्यूब वीडियो के माध्यम से देते हैं।

यूट्यूब के महत्वपूर्ण नियम


इसके सदस्य से लेकर बड़ी-बड़ी कंपनियाँ तक के वीडियो मौजूद हैं ।इनके वीडियो क्लिप टीवी कार्यक्रम संगीत वीडियो लाइव स्ट्रीम आदि होते हैं।कुछ लोग तो ऐसे वीडियो ब्लॉगिंग के रूप में इस्तेमाल करते हैं गैर पंजीकृत सदस्य को ही देखते हैं और कुछ सब्सक्राइब सदस्य असीमित Video upload कर सकते हैं।

वीडियो में टिप्पणी भी कर सकते हैं।कुछ ऐसे वीडियो जिनमें मानहानि उत्पीड़न अपराध करने को प्रेरित करने वाले वीडियो 18 वर्ष माई के लोगों के लिए घातक हो उन्हें भी देख सकते हैं।अपनी कमाई गूगल ऐडसेंस के माध्यम से करता है जो साइट के सामग्री और दर्शकों के हिसाब से अपना विज्ञापन दिखाता है, इसमें अधिकांश वीडियो फ्री में देख जा सकता है।

कुछ वीडियो को देखने के लिए पैसा देने पड़ते हैं इनमें से कुछ उधार लेकर देखना भी शामिल है जिसे आप कुछ पैसे देकर फ़िल्म देख सकते हैं यूट्यूब प्रीमियम सदस्यता के ऑप्शन में हैं जो आप पैसा देकर सदस्यता ले सकते हैं। जिसे आप बिना कोई विज्ञापन के बहुत सारे वीडियो देख सकते हैं।साथ में युटुब प्रीमियम कुछ ऐसे वीडियो भी है।

Youtube history 


जो प्रीमियम के सदस्य खरीद कर ही देख सकते हैं अब हम बात करते हैं youtube history के तो 2005 में यूट्यूब की शुरुआत पहले हुई थी आम कंप्यूटर उपयोगकर्ता के लिए ऑनलाइन वीडियो पोस्ट के लिए कुछ सरल उपलब्ध का आसान से उपयोग करने के अलावा यूट्यूब में यह संभव बनाया कोई भी वीडियो पोस्ट करने के लिए कंप्यूटर का उपयोग कर सकता है।

शुरुआत हुई किन-किन लोगों के माध्यम से देश यूट्यूब का शुरुआत की और आज देखो यह सारे संसार में सबसे अधिक पैसा भी कमा रहे हैं अनेक प्रकार की तरह वीडियो अपलोड किए जाते हैं जो चैनल के माध्यम से लोग बहुत पैसा कमा रहे हैं इसकी शुरुआत करते है।

YouTube अपनी कमाई 


YouTube अपनी कमाई google एडसेंस से करता है, जो साइट के सामग्री और दर्शकों के हिसाब से अपना विज्ञापन दिखाता है। इसमें अधिकांश video मुफ्त में देखा जा सकता है, पर कुछ वीडियो को देखने के लिए पैसे देने पड़ते हैं। इनमें से एक फ़िल्में उधार लेकर देखना भी शामिल है, जिसमें आप कुछ पैसे देकर फ़िल्म देख सकते हैं। YouTube प्रीमियम की सदस्यता भी आप पैसे देकर ले सकते हैं।

जिससे आप बिना कोई विज्ञापन के कई सारे वीडियो देख सकते हैं और साथ ही YouTube प्रीमियम पर कुछ ऐसे video भी हैं, जिसे सिर्फ़ आप यूट्यूब प्रीमियम की सदस्यता खरीद कर ही देख सकते। दोस्तों अपने हमारी पोस्ट youtube history in hindi और यूट्यूब के महत्वपूर्ण नियम के बारे में जाना आपको हमारी पोस्ट केसी लगी आप ज़रूर बताये .

और पढ़े -

Post a comment

0 Comments