Hindi Software की जानकारी। सॉफ्टवेयर कितने प्रकार के होते हैं?

Spread the love

 Hindi Software की जानकारी। सॉफ्टवेयर कितने प्रकार के होते हैं?


नमस्कार दोस्तों, Hindi software की जानकारी। software in hindi language, कंप्यूटर सॉफ्टवेयर, सॉफ्टवेयर कितने प्रकार के होते हैं? सॉफ्टवेयर का हिन्दी अर्थ, सॉफ्टवेयर कितने प्रकार के होते हैं। आप हमारे इस पोस्ट को पूरा पढ़िए ताकि आप अछि तरह से जान सको की hindi software क्या है इसको कैसे यूज़ किया जाता है आज आपको हम अपनी पोस्ट Hindi software की जानकारी। सॉफ्टवेयर कितने प्रकार के होते हैं। आपको बतायेगे। आप हमारे पोस्ट को पूरा पड़ी ये तो दोस्तों चलिए सुरु करते है।


सॉफ्टवेयर की परिभाषा क्या है? (What is the definition of software?) 


Computer softwer, कंप्यूटर सिस्टम का एक हिस्सा है जिसमें डेटा या कंप्यूटर निर्देश शामिल होते हैं। computer ke hadwer को संचालित करने के लिए विभिन्न प्रकार के निर्देशों के सेट अर्थात् कंप्यूटर प्रोग्राम्स का उपयोग होता है, जिसे हम softwer कहते है। जो computer को बताता है कि kya करना है या kaise कार्य करना है। इसका उदाहरण कंप्यूटर पर all softwer, अनुप्रयोगों और Operating System इत्यादि।


सॉफ्टवेयर का हिन्दी अर्थ (Hindi Meaning of Software) 


दोस्तों hindi भाषा से जुड़ी कुछ Important बातें, जिनके बारे में आप अभी तक नहीं जानते होंगे। जिन्हे में अपनी पोस्ट में आपको बताने बाला हू। जैसे कि Hindi भले ही हमारी मातृभाषा (vernacular) हो लेकिन सच्चाई यह है कि हम eske bare me बहुत कम जानते हैं। लेकिन बहुत लोग जानते है होंगे कि world me sabse ज़्यादा बोली जाने वाली भाषाओं में से एक है।


हिंदी देश के Millions of people की मातृभाषा है। लेकिन फिर भी हम में से ज्यादातर लोग यह नहीं कह सकते कि वे इस Bhasha ke bare में शायद ही आप जानते होंगे। जैसे कि आप जानते है कि हिन्दी भाषा Mauritius, Fiji, Suriname, Trinidad and Tobago में भी बोली जाती है। हिन्दी वैसी Seven languages में से एक है जिसका उपयोग Web address बनाने में किया जा सकता है।

Read post:- computer hardware and software in hindi

हिंदी शब्द पर्सियन के ‘HIND’ शब्द से बना है। इसका मतलब सिंधु नदी (Sindhu nadi) के क्षेत्र से है। संविधान सभा (Constituent Assembly) ने हिन्दी भाषा को आध‍िकारिक Bhasha के रूप में 14 सितंबर 1949 को चुना था। इसी वज़ह से 14 सितंबर को हर साल Hindi day के रूप में मनाया जाता है।


मार्केट में हिन्दी टाइपराइटर (Hindi typewriters in the market) 


सन1981 में बिहार ने Urdu language कि जगह Hindi Language को कार्यालयों में जगह दी। इसी के साथ Bihar hindi को अपनाने वाल देश का पहला राज्य बन गया .1965 में हिन्दी कोOfficial language of india के रूप में स्वीकार कर लिया गया। लगभग 500 मिलियन लोग Hindi Bhasha का प्रयोग करते हैं।


1805 में छपी Book of lallu lal ‘Prem sagar’ को हिन्दी की पहली किताब माना जाता है। इस किताब में भगवान कृष्ण की लीलाओं (Leelas of lord krishna) का वर्णन है मार्केट में हिन्दी टाइपराइटर (Hindi typewriter) मशीन 1930 में आई थी। बेसे हिन्दी की Script phonetic (शब्द उच्चारण) पर आधारित है यह जैसे बोली जाती है, वैसे ही लिखी भी जाती है।


Hindi Hindustani Language का एक मानकीकृत और संस्कृतकृत रजिस्टर है। जो मंगल एक यूनिकोड हिन्दी फ़ॉन्ट (Mars is a Unicode Hindi font) है। देवांगरी लिपि में लिखी गई, हिन्दी भारत की Official languages में से एक है। भले ही भारत गणराज्य में 22 अनुसूचित भाषाएँ (22 scheduled languages in the Republic of India) हैं। इसे भारत की राष्ट्रीय भाषा नहीं माना जाता है क्योंकि Indian Constitution में इस स्थिति के साथ कोई भाषा निर्दिष्ट नहीं की गई थी।


हिंदी टाइपिंग सॉफ्टवेयर (Hindi typing software) 


Friends, Hindi Devanagari script में लिखा जाता है इसलिए मंगल भी एक Devangari script font है। मंगल फ़ॉन्ट को सभी डिवाइस और प्लेटफॉर्म पर प्रदर्शित किया जा सकता है। कई अन्य Unicode fonts भी हैं जो लोकप्रिय हैं जैसे लोहित, देवांगरी, उत्सव, अपराजिता, आदि। जोWindows 10 में पहले से ही मंगल का फ़ॉन्ट पहले से ही है, लेकिन फिर भी आपको लिखने के लिए Hindi typing software डाउनलोड करना होगा।


Indic input software इंडिक इनपुट Microsoft द्वारा विकसित एक उपकरण है जो की 3 कीबोर्ड लेआउट का समर्थन करता है और भारत में सरकार द्वारा भी उपयोग किया जाता है। Hindi Indic Input 3 एक मुफ्त कार्यक्रम है जो उपयोगकर्ताओं को अंग्रेज़ी QWERTY कीबोर्ड का उपयोग करके हिंदुस्तानी Indian language में पाठ दर्ज करने का एक सुविधाजनक तरीक़ा देता है।


इसमें भाषा के बीच कई keyboard layout और टॉगल हैं। आप वर्डपैड, नोटपैड और ऑफिस एप्लिकेशन में Linguistic text दर्ज कर सकते हैं। भारत टाइपिंग सॉफ्टवेयर Hindi यह एक और मुफ्त विकल्प है जो आपको अपने QWERTY अंग्रेज़ी कीबोर्ड का उपयोग करके Hindi type करने की अनुमति देता है। यह सॉफ्टवेयर सभी प्रकार के कीबोर्ड के साथ संगत है जैसे Hindi, Remington, Remington Jail, Inscript, Krutidev 010, Devils 010, Mangal Font Hindi आदि।

Read the post:- Hindi typing software kya or kare upyog kare-हिंदी टाइपिंग सॉफ्टवेयर

Google इनपुट टूल (Google input tool) 


Internet का उपयोग की ज़रूरत है स्वचालित रूप से English to hindi में परिवर्तित करें या इसके विपरीत जो की आपको Facebook, Twitter, टिप्पणियों आदि पर हिन्दी में टाइप करने की अनुमति देता है। हिन्दी टाइपिंग Hindi Indic IME आपको अंग्रेज़ी QWERTY कीबोर्ड के साथ संगत अनुप्रयोगों में भारतीय भाषाओं में ग्रंथों को दर्ज करने की अनुमति देता है।


Partial typing द्विभाषी रचना, लिप्यंतरण, वर्तनी जाँच आदि के बाद अनुकूलित सूची से शब्दों का चयन करता है। ऑटो टेक्स्ट अनुकूलित विश्व सूची विभिन्न Keyboard Remington Jail, Remington CBI, Devanagari को शामिल किया गया।


Google इनपुट टूल Google का मुफ्त सॉफ्टवेयर है। यह हिन्दी सहित सभी प्रमुख भारतीय भाषाओं का समर्थन करता है। यह Transliteration software है इसका मतलब है कि आपको अंग्रेज़ी में टाइप करना होगा सॉफ्टवेयर स्वचालित रूप से इसे हिन्दी में बदल देगा। Hindi typing सीखने की बिल्कुल भी ज़रूरत नहीं है। अगर आप किसी कार्यालय में काम कर रहे हैं और कभी-कभार ही Hindi type करना चाहते हैं तो यह आपके लिए सबसे आसान उपाय है।


हिदी टाइपिंग मास्टर (Hindi typing master) 


लोग इस टूल का उपयोग करते हैं जो हिन्दी टाइपिंग नहीं जानते हैं। Hindi typing master आपके पीसी पर हिन्दी में टाइप करने के लिए एक और अच्छा softwer विकल्प है। यह सभी प्रकार के keyword के साथ संगत है जैसे-JR Hindi English, Typing Tutor, Azhagi +, HindiTrans, Vedic Sciencev आदि।


इस softwer को आपके पीसी पर इंस्टॉल होने के बाद काम करने के लिए एक Active internet connection की आवश्यकता नहीं है। यदि आप Hindi typing नहीं जानते हैं, तो यह सॉफ्टवेयर English typing की सुविधा प्रदान करता है। आप अंग्रेज़ी में टाइप करते हैं और सॉफ्टवेयर स्वचालित रूप से हिन्दी शब्दों में बदल जाएगा।

Click read post:- best free full version software download sites Hindi me jankari

आप किसी भी जगह पर हिन्दी में टाइप कर सकते हैं, जैसे Facebook, twitter टिप्पणियाँ आदि। 10 विभिन्न कीबोर्ड प्रदान करता है लेआउट टाइपिंग परीक्षा में आपकी बहुत मदद करता है। एससीएस और विभिन्न सरकार परीक्षा के लिए, यूनिकोड (Mars font) पर काम करता है। English keyboard पर शो हिन्दी कीबोर्ड मैपिंग के लिए स्क्रीन कीबोर्ड प्रदान करता है। यह आपको सही शब्द सुझाने के लिए फ्लाई मदद पर। दोतो यह तेजी से काम करने के लिए ऑटो पूरा करने का विकल्प। Every indian को अपने कंप्यूटर में सॉफ्टवेयर की आवश्यकता होनी चाहिए।


सॉफ्टवेयर कितने प्रकार के होते हैं (What are the types of software) 


Yas friends, Software को 2 भागो में वर्गीकृत किया जाता है: अर्थात् System Software और Application Software. यह कम्प्यूटर प्रणाली के hardware घटकों को नियंत्रित करने, एकीकृत करने और Managing के लिए ज़िम्मेदार होते है और Specific performance के लिए ज़िम्मेदार होते है।


system software: इसमें कंप्यूटर के Default programs शामिल होते है जो कंप्यूटर के मूलभूत कार्यों को सँभालते है। इनके द्वारा ही Computer system के अलग-अलग हार्डवेयर घटकों को नियंत्रित, Integrate and manage करने के लिए ज़िम्मेदार होते हैं। अर्थात् system software का मुख्य कार्य हार्डवेयर घटकों को मैनेज एवं नियंत्रित करना ताकि Application software अपना काम ठीक तरह से कर सके। system software को दो प्रमुख श्रेणियों में विभाजित किया जा सकता है; System Management Program and System Utilities Program.

Read post:- system software in Hindi

Application Software: यह एक kamputer saftwer है जो उपयोगकर्ता को Single or Multiple Tasks करने में मदद करता है। यह विशिष्ट उपयोगों या अनुप्रयोगों के लिए design किए गए निर्देशों या कार्यक्रमों का एक सेट होता है, जो upyogkarta को किसी कंप्यूटर से Interact करने में सक्षम बनाता है। Application Software को उपयोगकर्ता program भी कहा जाता है।


सॉफ्टवेयर के प्रकार (Type of software) 


General purpose software: सामान्य उद्देश्य सॉफ्टवेयर उपभोक्ता कि रोजमर्रा कि ज़रूरतो को ध्यान में रखकर बनाया जाता है। ये Programs computer को सरल कार्य करने का निर्देश देते हैं, ये सामान्य प्रयोजन Softwer का उपयोग करने के लिए कई अच्छे कारण हैं।


Specific Purpose Software: विशिष्ट उद्देश्य सॉफ़्टवेयर विशिष्ट कार्य करने के लिए डिज़ाइन किए जाते हैं। इनका इस्तेमाल विशेष रूप से उपभोक्ता कि आवश्यकताओं को ध्यान में रखकर बनाया जाता है, इस प्रकार के Softwer आम तौर पर महँगे होते है क्योकि ये उपभोक्ता कि सारी आवश्यकताओं को पूरा करते हैं।


सॉफ्टवेयर कैसे बनाते है? (How to create software?) 


एक व्यक्ति जो computer program लिखता है जिसे हम Programmer, Developer, या Software Engineer के रूप में जानते है। किसी भी प्रतिष्ठित कंपनी में प्रोग्रामर्स, उपभोक्ता कि ज़रूरतों के अनुसार Various programming languages के उपयोग से सॉफ़्टवेयर का विकास करते है, जिनका उपयोग हम रोजाना करते है।


यदि आपके Computer, mobile इत्यादि से अगर सॉफ़्टवेयर हटा दिया जाये तो आपका डिवाइस एक खाली डिब्बे के समान रह जायेगा और आपके लिए पूरी तरह से बेकार होगा जब तक आप दुबारा उसमे Software install ना कर दे इसका अर्थ यह है कि बिना Software आप जो दिन रात कंप्यूटर, लैपटॉप और मोबाइल में लगे होते है।

Read post:- computer ke liye free pc software chahiye

बिना Software आप उससे कोई भी कार्य नहीं कर सकते है और बिना इन सब डिवाइसेस के बिना आप कल्पना कर सकते की Software, आपके रोजाना दिनचर्या को कितना प्रभावित करती है Operating system अलवा भी हमे विभिन्न प्रकार के Utility software की ज़रूरत होती है। अलग-अलग उद्देश्यों के लिए हम अलग-अलग प्रकार के सॉफ्टवेयरों की आवश्यकता होती है जिन्हें हम Application software के नाम से जानते है और समय-समय पर आपको इसे अपडेट भी करना होता है ताकि आप नवीनतम विशेषताएँ का लाभ उठा सके।


पोस्ट निष्कर्ष


दोस्तों आपने इस पोस्ट में जाना कि, Hindi software की जानकारी। सॉफ्टवेयर कितने प्रकार के होते हैं? Hindi fonts or Hindi software. इसको कैसे टाइप किया, यूज़ किया जाता है सॉफ्टवेयर कितने प्रकार के होते हैं। हिन्दी सॉफ्टवेयर के बारे में जानकारी आपने पढ़ी। आशा है आपको हमारी यह जानकारी ज़रूर पसंद आई होगी। आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ ज़्यादा से ज़्यादा शेयर करें और अधिक पोस्ट पढ़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें। 

Read some post:-

3 thoughts on “Hindi Software की जानकारी। सॉफ्टवेयर कितने प्रकार के होते हैं?”

Leave a Comment