Blog Ko Rank Kaise Kare गूगल के फर्स्ट पेज पर

अपने ब्लॉग आर्टिकल को रैंक कैसे करें गूगल के फर्स्ट पेज पर? Blog Ko Rank करने के लिए क्या जरूरी हो सकता है, कौन-कौन से स्टेप फॉलो करना होगा? कैसे हम SEO फ्रेंडली अपना ब्लॉग पोस्ट बनाएँ? ताकि हमारा ब्लॉग को रैंक करने में मदद मिले। आज हम इस आर्टिकल में आपके साथ अपना अनुभव सांझा करने वाला हूँ, जो कि मैं भी इसी तरह यूज करता हूँ और मेरे Google के Fist Page पर Blog Rank होता है। चलिए आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें, यह आपको ब्लॉग Rank करने में मदद करेगी। स्टार्ट करते हैं,

blog ko rank kaise kare
blog ko rank kaise kare

ब्लॉग को रैंक करने के लिए जरूरी (Blog Ko Rank)

सबसे पहले हम जानते हैं कि ब्लॉग को Rank करने के लिए क्या जरूरी है? दोस्तों सबसे पहला मुख्य बात तो यही है कि गूगल के एल्गोरिथ्म को कोई समझ नहीं सकता है। यदि कोई समझ लेता तो उस हिसाब से सिर्फ उन्हीं लोगों की वेबसाइट या ब्लॉग रैंक होता।

लेकिन गूगल के दिन प्रतिदिन अपडेट आते रहे हैं, क्योंकि कोई भी यह नहीं चाहता है कि जो भी टॉप पर Rank तो वही रैंक रहे, कुछ नए ब्लॉगर होते हैं जो उनको भी मौका मिलता है। टॉप में रैंक करने के लिए, तो Blog Ko Rank करने के लिए जरूरी मुख्य रूप से होता है।

आपका अपना एक्सपीरियंस और कुछ सीखना, क्योंकि जब तक हम सीखेंगे नहीं, Reading नहीं, तब तक हम अपने Blog को कैसे रैंक कर सकते हैं? तो सबसे पहले तो Blog Seo सम्बंधी जानकारी हमें सीखना जरूरी है।

फर्स्ट पेज पर ब्लॉग लाने के लिए (First Page Blog)

Blog पोस्ट को फर्स्ट पेज पर लाने के लिए कुछ जरूरी स्टेप फॉलो करना होगा। जो हम नीचे बताने वाले हैं। यदि आप इस स्टेप को अच्छी तरह से समझ जाते हैं और बढ़िया Seo करते हैं तो आप निश्चय ही आपका ब्लॉग रैंक कर सकता है। तो चलिए हम कुछ महत्त्वपूर्ण स्टेप जानते हैं।

1-बेस्ट कीवर्ड रिसर्च डोमेन (Best short word domain)

सबसे पहले बात करते हैं कि यदि आप अपना नया blog बना रहे हैं, जिसको आपको Rank कराना है तो उससे पहले आपको एक ऐसे डोमेन का चयन करना है जो विशेषकर पढ़ने में हमारे लिए सुविधा हो, किसी को याद करने में सुविधा हो और अपने Category रिलेटेड, जिस पर आप आर्टिकल लिखना चाहते हैं।

उस से रिलेटेड कोई शार्ट कीवर्ड रिसर्च करें और गूगल पर पहले उस डोमेन को रिसर्च करें जिस से रिलेटेड लोग सर्च करते हैं। तो सबसे पहले तो आप को अपना बेस्ट कीवर्ड रिसर्च करके डोमेन search करना है ताकि आपका डोमेन इंटरनेट पर पहचाना जा सके, यदि आपने ऐसा कर लिया तो समझ लेना कि आने वाले दिनों में आप सबसे टॉप पर रहेंगे।

2-बेस्ट कीवर्ड रिसर्च (Best Keyword Research)

बिना कीवर्ड के आप रैंक नहीं कर सकते हैं। इसलिए दोस्तों सबसे पहले जरूरी होता है हमारे लिए Best Keyword Research करना। आप आर्टिकल एक निश्चित कैटेगरी के आधार पर लिखना चाहते हैं कि अनलिमिटेड कैटेगरी के हिसाब से, लेकिन आपको जब भी अपना ब्लॉग पेज बनाना है तो उस पेज के लिए आपको कीवर्ड रिसर्च करना जरूरी होगा।

यदि आप चाहें तो बहुत से इंटरनेट पर free keyword research tool हैं जिनका उपयोग कर सकते हैं। नहीं तो आप सिर्फ गूगल का ही इस्तेमाल करें, अपना सर्च बार में कीवर्ड डालें और उसके सजेशन में कौन-कौन से कीवर्ड आते हैं उनको भी आप अपने आर्टिकल में सबकीवर्ड का इस्तेमाल कर सकते हैं।

विशेषकर आपको इस बात का ध्यान रखना है कि आप जो आर्टिकल लिखने वाले हैं वह एक विजिटर को अच्छी तरह से समझ में आना चाहिए, ताकि वह ज्यादा से ज्यादा देर तक आपके आर्टिकल पर रुके और उस आर्टिकल को पढ़कर के दूसरों के साथ भी साझा करें। गूगल भी इस चीज को समझता है,

कि यदि आपकी वेबसाइट और ब्लॉग पेज पर कोई ज्यादा टाइम रुकता है तो बांसरेट घटता है। इससे आपके रैंकिंग के चांस बनते हैं इसलिए सबसे पहले आपको Blog Page या पोस्ट के लिए Keyword Research करना जरूरी है। आपको ऐसे कीवर्ड का इस्तेमाल करना है जो कि ज्यादा से ज्यादा लोग सर्च करते हैं, या देखते हो, विशेष का long-tail Keyword और कम कंपटीशन वाले की वाले कीवर्ड का इस्तेमाल कर सकते हैं।

3-बेस्ट क्वालिटी कंटेंट (Best Quality Content)

आपने कीवर्ड रिसर्च कर लिया अब मेन फोकस होता है, “Quality Content” हम अपने आर्टिकल को इतना यूनिट एवं क्वालिटी कंटेंट बनाएँ ताकि लोग पढ़ करके उसके दिमाग में अच्छी तरह से समझ आ सके, यदि हम आगेरा-वगैरह या एक्स-वाई-जेड कुछ भी कंटेंट डालेंगे तो गूगल भी हमारे आर्टिकल को रैंक नहीं करेगा।

इसलिए सबसे मुख्य बात होती है आपका क्वालिटी कंटेंट होना चाहिए, क्योंकि कहा गया है कंटेंट ही राजा है। यदि आपका आर्टिकल बिल्कुल यूज़र फ्रेंडली और विजिटर के लायक बना है ब्लॉग पोस्ट लिखने का सही तरीका तो निश्चय ही आपके आर्टिकल के Rank के चांस बन जाते हैं।

आप कम से कम 500-600 या 1000 वर्ड का आर्टिकल भले ही छोटा लिखे। लेकिन उसको विजिटर को पढ़ने में आसानी और समझने में आसानी होना चाहिए, ताकि आपके आर्टिकल के माध्यम से वह सलूशन पा सके,

4-निस रिलेटेड आर्टिकल (Nice Related Articles)

अक्सर देखा जाता है कि यदि हमें अपना blog ko rank कराना है तो निश्चय (Nis) रिलेटेड आर्टिकल लिखे, आप यदि एक ही कैटेगरी के आर्टिकल लिखते हैं तो उसमें Renk ज्यादा चांस होते हैं। क्योंकि आप उसी कैटेगरी के आर्टिकल को अन्य आर्टिकल का इंटरलिंकिंग कर सकते हैं।

ताकि आपके जो भी आर्टिकल पढ़े उसी से रिलेटेड और अन्य जानकारी के इंटरलिंकिंग करते हो तो है आपके पोस्ट पर आता जाता रहेगा। इससे गूगल भी समझता है कि यह जानकारी बहुत ही इंफॉर्मेशन है। इसलिए ऐसे चांस होते हैं कि वह आर्टिकल आपका गूगल के फर्स्ट पेज पर रैंक हो सकता है। इसके अलावा दोस्तों आर्टिकल में मुख्य बात होती है Image चलो हम इमेज के बारे में जानते हैं।

Read: वर्डप्रेस ब्लॉग बनाये स्टेप बाय स्टेप

5-यूनिक इमेज (Unique image)

जब भी हम आर्टिकल लिखते तो उस आर्टिकल से रिलेटेड कम से कम एक या दो इमेज जरूर हमें इस्तेमाल करना चाहिए, ताकि इमेज को देखकर के एक रीडर आपके पृष्ठ पर रुकेगा और देखेगा, आपके कंटेंट टैक्स के माध्यम से पड़ेगा। साथ में वह Photo के माध्यम से भी कुछ समझने में सहूलियत होगी।

इस प्रकार से आपको यूनिक इमेज का इस्तेमाल करना है, ना कि कॉपीराइट, यदि आप किसी ऐसे इमेज एडिट करना चाहते हैं तो मोबाइल में भी बहुत सारे ऐसे एप्लीकेशन होते हैं जहाँ पर आप इमेज को एडिट कर सकते हैं। तो आपका Unique image होना चाहिए ना कि कॉपीराइट। यदि यूनिक इमेज रहा तो निश्चय ही हमारा आर्टिकल टॉप पर रैंक होगा।

6-सही कीवर्ड्स स्टेपिंग (correct keywords stepping)

बात करते हैं सही कीवर्ड्स स्टेपिंग की दोस्तों यदि हमने कीबोर्ड का ज्यादा stepping की तो ऐसे में हमारे आर्टिकल में स्पर्म अपडेट जैसी समस्या बन सकती है। इसलिए आपको कीवर्ड का इस्तेमाल सिर्फ उतना ही करना है जरूरत से ज्यादा यदि आप कीवर्ड का इस्तेमाल करते हैं तो गूगल समझता है कि यह आप जबरदस्त धमाका करने वाले हैं।

आपका आर्टिकल नीचे कर दिया जाएगा, आपको यूजर फ्रेंडली आर्टिकल बनाना है जिसमें आपको टाइटल में कीबोर्ड, इसके अलावा इंट्रोडक्शन और साथ में आपको नीचे निष्कर्ष में आप कीबोर्ड को दर्शा सकते हैं। कहीं-कहीं बीच में भी दर्शा सकते हैं। यदि आपका आर्टिकल लंबा हुआ तो, इस प्रकार से आपको जहाँ इस्तेमाल keywords होना है उसी जगह करें।

7-हाई अथॉरिटी बैकलिंक्स (high authority backlinks)

अब बात करते हैं कि हमारा BLOG रेडी हो गया है, अब गूगल के फर्स्ट पेज पर हम अपना Blog Ko Rank Kaise Kare तो दोस्तों इसके लिए जरूरी होता है कुछ बैंकलिंक यदि हमने कुछ अच्छी वेबसाइट से बैकलिंक बना लिए, उस आर्टिकल या, ब्लॉग पर तो निश्चय ही हमारा Blog की अथॉरिटी बढ़ेगी और वह गूगल सर्च में पहले आने की कोशिश करेगा।

इस प्रकार से आपको हाई अथॉरिटी वेबसाइट से बैकलिंक लेने की पूरी कोशिश करना है और आप बना सकते हैं। इसके अलावा Quora जैसी वेबसाइट का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। जहाँ पर आप अपना backlink व ट्राफिक इनक्रीस कर सकते हैं।

8-गूगल सर्च कंसोल में समिट करे (Google Search Console)

दोस्तों बात करते हैं कि हमारे Blog Ko Rank Kaise Kare? से पहले जैसे ही हमारा भी Blog रेडी हो जाता है। बस हमें अपने वेबसाइट या ब्लॉग को गूगल सर्च कंसोल में जा करके अपनी साइट को इंडेक्स करना है। इसके साथ-साथ हम अपने आर्टिकल को भी इंडेक्स कर सकते हैं।

Google Search Console जो भी अन्य mistake देखें उसे फिक्स कर सकते हैं। तो मेन मुख्य बात होती है गूगल सर्च कंसोल के नियमों को फॉलो करना है, वह अपनी साइट को इंडेक्स कराना है, अब आपका आर्टिकल गूगल में इंटेक्स होने के बाद आपको आर्टिकल सर्च में आने लगेगा।

9-डेली अपडेट टू वर्क (daily update to Blog work)

आप दोस्तों बात करते हैं कि हमें अपना Blog Ko Rank करआना है तो उसके लिए जरूरी होता है हमें अपने ब्लॉग पर डेली वर्क करना। यदि हम अपने ब्लॉग पर रोजाना अपडेट करते रहे, कोई त्रुटि है उसे सुधारते रहे, नया आर्टिकल लिखते रहें, आप कम से कम अपने ब्लॉग को 2-5 मिनट रोजाना जरूर देखें।

उसको जांच करें कि आपके साइड की स्पीड सही है, आपका कोई आर्टिकल Rank कर रहा है कि नहीं कर रहा है, इस प्रकार से आपको लगभग कितना भी समय दो मगर आपको अपने ब्लॉग पर डेली वर्क करने की कोशिश करना है।

निष्कर्ष

दोस्तों ऊपर दिए गए आर्टिकल के माध्यम से आपने यह जाना कि ब्लॉग को रैंक कैसे करें Blog Ko Rank Kaise Kare? इसमें कुछ हमने महत्त्वपूर्ण बिंदुओं पर चर्चा की यदि आपने ऊपर दिए गए स्टेप को फॉलो किया तो निश्चय ही आपका ब्लॉग पोस्ट गूगल के फर्स्ट पेज पर रैंक होगा। आर्टिकल पढ़ने के लिए धन्यवाद, हमारे और अधिक आर्टिकल पढ़ें।

और अधिक पढ़ें: ब्लॉग एसईओ (SEO) टिप्स इन हिन्दी।

Leave a Comment